Home राष्ट्रीय 'आप चंद दिनों की मेहमान', कोविड मरीज को इंजेक्शन लगाते वक्त बोली...

‘आप चंद दिनों की मेहमान’, कोविड मरीज को इंजेक्शन लगाते वक्त बोली नर्स, अगले दिन मरीज की…

ग्वालियर. ग्वालियर के बिड़ला अस्पताल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। वायरल वीडियो में नर्स महिला मरीज से कह रही है कि आप चंद दिनों की मेहमान हैं। अगले दिन महिला मरीज की मौत हो जाती है। उसके बाद बवाल मचा हुआ है।
एमपी के ग्वालियर से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। वायरल वीडियो में बिड़ला अस्पताल का है। आईसीयू में भर्ती कोविड पीड़ित मरीज वंदना अग्रवाल को एक नर्स इंजेक्शन लगा रही है। इंजेक्शन लगाने के दौरान वह महिला मरीज से कहती है कि आप चंद दिनों की मेहमान हैं। इस दौरान महिला मरीज उससे सही से बात कर रही थीं। अगले दिन उस मरीज की मौत हो जाती है। वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है।

मरीज की मौत के बाद परिजनों ने नर्स और डॉक्टर पर कार्रवाई की मांग की है। दरअसल, बिड़ला अस्पताल में 24 अप्रैल को भर्ती हुईं कोविड मरीज वंदना अग्रवाल की शनिवार को मौत हो गई। परिजन ने इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाकर अस्पताल में हंगामा किया है। मृतका की बेटी वर्तिका ने आरोप लगाया कि शुक्रवार को अस्पताल में बनाया गया एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें स्टाफ नर्स चंद्रा बघेल, उनकी मां को इंजेक्शन लगाने के दौरान बोल रही थी कि वह चंद दिनों की मेहमान हैं।

अगले दिन मौत

मृतका की बेटी ने बताया कि इसके अगले ही दिन यानी शनिवार को दोपहर ढाई बजे के लगभग उनकी मौत हो गई। हंगामे की जानकारी मिलने पर पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल और कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह भी अस्पताल पहुंच गए। वर्तिका ने बताया कि 14 अप्रैल को पिता सुरेंद्र अग्रवाल को भी यहीं भर्ती कराया गया था। 28 को उन्हें यह कहते हुए डिस्चार्ज कर दिया कि कोरोना संक्रमण से वह ठीक हो चुके हैं। अब इन्हें यूरोलॉजिस्ट की आवश्यकता है। डिस्चार्ज होने के बाद उन्हें घर लेकर पहुंचे ही थे कि आधे घंटे बाद ही उनकी मौत हो गई।उनके इलाज में लगभग पांच लाख रुपए का भुगतान किया गया।

ग्लूकोज-नमक से 80 रुपये में तैयार करते नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन, गुजरात से लाकर एमपी में बिक्री

मां के इलाज के एवज में भी डेढ़ लाख रुपए दिए गए। आरोप की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर ने मौखिक रूप से घटना की जांच कर दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का आदेश दिया। कलेक्टर के कहने पर अस्पताल प्रबंधन ने मृतका की बेटी को इलाज पर खर्च हुए साढ़े छह लाख रुपए चेक के माध्यम से लौटा दिए।

modi shah

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments