Home Political Samachar बंगाल BJP नेतृत्व पर संकट, 77 विधायकों और 18 सांसदों के TMC...

बंगाल BJP नेतृत्व पर संकट, 77 विधायकों और 18 सांसदों के TMC संपर्क से दिल्ली तक मचा हड़कंप

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद भारतीय जनता पार्टी की जिस तरह से बुरी तरह हार हुई है। उसके बाद भाजपा के कई हलकों में यह अ’फवा’ह फैल गई है कि राज्य में उनके 77 विधायक और 18 सांसदों में से कई तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व के संपर्क में हैं।
इसके अलावा, भगवा खेमे में नए लोगों को स्वीकार करने में पार्टी के कुछ क’ट्टर’पंथियों के बीच असंतोष की भावना, विशेष रूप से हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनावों में भाजपा के बराबर प्रदर्शन के बाद, इस तरह की अ’टकलों को हवा दे रही है। बताया कि भाजपा के कृष्णा नगर उत्तर के विधायक और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल राय ने शुक्रवार को ही विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की पहली बैठक से दूर रहने का फैसला लिया है।
जहां यह फैसला लिया गया कि भाजपा विधानसभा के बाद तक विधानसभा का ब’हिष्कार करेगी। ताकि पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा को रोका जा सके हालांकि राज्य के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष ने भी इस मामले में एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि मुकुल रॉय को कृष्णानगर वापस जाना पड़ा था। क्योंकि हमारे कार्यकर्ताओं के खिलाफ हिं’सा के मामले वहां से रिपोर्ट किए गए थे।

mamta banerjee tmc

वहीं कुछ पार्टी के अंदरूनी सूत्रों का भी है मानना है कि मुकुल रॉय द्वारा भाजपा से खुद को दूर करने की ये एक कोशिश थी। राज्य में अभी-अभी संपन्न विधानसभा चुनावों के दौरान चुनाव रणनीति बनाने के संबंध में भाजपा में उसकी घटती अहमियत को देखते हुए कार्रवाई की।

बताया जाता है कि साल 2017 में तृणमूल कांग्रेस से भारतीय जनता पार्टी में जाने के बाद इस बार अपना पहला विधानसभा चुनाव जीतने वाले मुकुल रॉय जब अनौपचारिक रूप से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बाद पार्टी में दूसरे नंबर के शख्स थे। तो 2018 के पंचायत चुनावों और 2019 लोक सभा में भाजपा की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, मुकुल-दा पार्टी से खुश नहीं हैं। वे महत्वपूर्ण चे’तावनी जारी कर रहे थे, महत्वपूर्ण विभक्ति बिं’दुओं की पहचान कर रहे थे, लेकिन उनकी सलाह को नजरअंदाज कर दिया गया।

आपको बता दें कि मुकुल रॉय ने ट्वीट कर कहा, कैलाश-दिलीप-शिव-अरविन्द को सम्मानित प्रधान मंत्री (नरेंद्र मोदी) और गृह मंत्री (अमित शाह) के नामों पर पार्टी में लाया गया है और दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी का नाम रोशन किया है। हेस्टिंग्स (बंगाल भाजपा के चुनाव मुख्यालय) और 7-सितारा होटलों के अग्रवाल भवन में बैठे, उन्होंने तृणमूल कांग्रेस से आने वाले कचरे को टिकट दिये।

rahul gandhi

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments