Home Political Samachar स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की पावन भूमि पर सरकार के काम-काज का हिसाब...

स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की पावन भूमि पर सरकार के काम-काज का हिसाब देने आया हूं: डॉ. रमन सिंह : मुख्यमंत्री ने दी 265 करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्यों की सौगात

रायपुर. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा के तहत दुर्ग जिले के तहसील मुख्यालय पाटन में आयोजित विशाल आमसभा में कहा-प्रदेश सरकार ने विगत 15 वर्षों में राज्य के हर क्षेत्र में समाज के हर वर्ग के उत्थान के लिए समर्पित होकर काम किया है। उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम में पाटन क्षेत्र के गौरवशाली इतिहास का उल्लेख किया और कहा कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की इस पावन भूमि पर मैं सरकार के 15 साल के काम-काज का हिसाब देने आया हूं।
डॉ. सिंह ने इस अवसर पर लगभग 265 करोड़ 64 लाख रूपए के 55 निर्माण कार्यों की सौगात दी। उनके हाथों इनमें से 119 करोड़ 59 लाख रूपए के पूर्ण हो चुके 25 निर्माण कार्यों का लोकार्पण और 146 करोड़ 05 लाख रूपए के 30 नये स्वीकृत निर्माण कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास सम्पन्न हुआ। आमसभा में सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत लगभग 29 हजार हितग्राहियों को अनुदान सामग्री और राशि का भी वितरण किया गया। मुख्यमंत्री ने प्रतीक स्वरूप इनमें से कई हितग्राहियों को सामग्री के साथ चेक भी वितरित किए। संचार क्रांति योजना के तहत उन्होंने महिला हितग्राहियों को निःशुल्क स्मार्ट फोन का भी वितरण किया।
डॉ. रमन सिंह ने आमसभा को सम्बोधित करते हुए कहा- पाटन क्षेत्र में लगातार हुए विकास के कार्यो से और सरकार की विभिन्न येाजनाओं से यहां के लोगों के जीवन में खुशहाली आयी है। गरीबों के लिए एक रूपए किलो चांवल वितरण, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अंतर्गत महिलाओं को गैस कनेक्शन, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, मुख्यमंत्री आवास पट्टा योजना जैसी महत्वपूर्ण योजना से बड़ी संख्या में हितग्राही लाभान्वित हुए है। उन्होंने अपने सम्बोधन मंे कहा कि पाटन क्षेत्र में रेल कारीडोर लाने का कार्य सरकार ने किया है। 5 हजार 700 करोड़ रूपए के रेल कारीडोर से यहां के 11 गांवों को रेल सुविधा का लाभ मिलेगा। इसी प्रकार 2 हजार 281 करोड़ रूपए का भारत माला प्रोजेक्ट भी लाया गया है, जिससे इस क्षेत्र में सड़कों के निर्माण से ग्रामीण क्षेत्र मुख्य मार्गों से जोड़े जा सकेंगे। जिससे इस क्षेत्र का समग्र विकास होगा।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार के प्रयासों से किसानों से इस वर्ष से धान की खरीदी 2050 से 2070 रूपए क्विंटल की दर से खरीदी की जाएगी। साथ ही धान का  बोनस राशि 300 रूपए प्रति क्विंटल वितरित की जाएगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के निर्माता पूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से अटल विकास यात्रा शुरू की गई है। उन्होंने आगे कहा कि पिछले 15 साल में पाटन में हुए विकास कार्यों का हिसाब देने इस यात्रा के माध्यम से यहां आया हूं। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस अवसर पर विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं के तहत सामगी व चेक का वितरण किया। उन्होंने स्काई योजना में थर्ड जेण्डर को शामिल करते हुए दुर्ग जिले से तृतीय लिंग समुदाय के लोगों को मोबाईल फोन वितरण का शुरूआत करते हुए कंचन सेण्ड्रे को मोबाईल फोन का वितरण किया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस अवसर पर शासकीय महाविद्यालय पाटन का नामकरण शहीद स्व. श्री डोमेश्वर साहू के नाम करने की घोषणा की। दक्षिण पाटन के ग्राम उमरपोटी निवासी स्व. श्री साहू जम्मू काश्मीर में देश की सीमा की रक्षा करते हुए शहीद हुए थे।
समारोह को सम्बोधित करते हुए राजस्व मंत्री श्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने अटल विकास यात्रा को प्रदेश सरकार की विकास का साक्षी बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के साथ ही पाटन विधानसभा क्षेत्र में भी विगत 14 वर्षों में विकास की नई इबारत लिखी गई है। उन्होंने कहा कि 21सौ करोड़ रूपए की लागत से पाटन क्षेत्र में बनने जा रहे राष्ट्रीय राजमार्ग क्षेत्र की दिशा व दशा बदलने में मददगार साबित होगा। इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रमशीला साहू, विधायक सर्वश्री सांवला राम डाहरे तथा श्री विद्यारतन भसीन सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments