Home अन्य समाचार आनंद विहार बस अड्डे पर जुटी ये भीड़ दिल्ली छोड़ गांव-कस्बों की...

आनंद विहार बस अड्डे पर जुटी ये भीड़ दिल्ली छोड़ गांव-कस्बों की तरफ़ जा रहे प्रवासी मज़दूरों की है

पिछले साल ही तरह दिल्ली के आनंद विहार बस अड्डे पर प्रवासी मज़दूरों की भीड़ लग गई है. ये नज़ारा तब का है जब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने आज रात 10 बजे से लग रहे लॉकडाउन की घोषणा करते हुए ख़ास तौर पर मज़दूर वर्ग से गुज़ारिश की थी कि वो दिल्ली छोड़ कर ना जाएं.

CM ने हाथ जोड़ते हुए लोगों से कहा था, “मैं हूं न.” पुलिस का कहना है कि Anand Vihar ISBT पर करीबन 5000 हज़ार लोग मौजूद थे और ये भीड़ लगातार बढ़ने की उम्मीद है. आज सुबह लॉकडाउन की घोषणा करते हुए केजरीवाल ने ख़ास कर मज़दूर वर्ग से बात करते हुए कहा कि ये लॉकडाउन सिर्फ़ 6 दिनों के लिए है, इसलिए वो घबराहट में दिल्ली न छोड़ें.

“मैं आपको भरोसा दिलाता हूं, आपका पूरा ख़्याल रखूंगा. मैं हूं न, मुझ पर भरोसा रखो.”

लोगों का इस क़दर गांव-कस्बों के लिए निकलना इसलिए भी हो रहा है, क्योंकि लॉकडाउन की अचानक से घोषणा की गई. पुलिस ने इस इलाके में सबसे ज़्यादा बल तैनात किया है. लेकिन यहां 5000 लोग पहुंच चुके हैं और बस लिमिटेड हैं. अभी प्रशासन और पुलिस की कोशिश लोगों को स्थाई बसेरे या बसों का इंतेज़ाम कर के देना है.

“मुझे पता है कि लॉकडाउन बढ़ेगा, इसलिए बेहतर है कि मैं अपने घर पर रहूं. इस बार मैं कोई चांस नहीं लेना चाहता.”
दिलशाद गार्डन की एक कपड़ा फैक्ट्री में काम करने वाले मुकेश प्रताप बरेली के पास अपने गांव निकल रहे हैं. उन्हें डर है कि लॉकडाउन कहीं और न बढ़े.

modi shah

दिल्ली के CM के वादे के बाद भी अगर लोग राजधानी छोड़ कर जा रहे हैं, उसकी एक ही वजह है. उन्हें शासन-प्रशासन पर भरोसा नहीं ह, उनके ज़ेहन में पिछली बार का दर्द अभी ताज़ा है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments