Home Political Samachar ...तो इस वजह से अरविंद केजरीवाल ने लोकसभा चुनाव के बाद बंद...

…तो इस वजह से अरविंद केजरीवाल ने लोकसभा चुनाव के बाद बंद कर दिए PM नरेंद्र मोदी विरोधी ट्वीट

ट्विटर पर बड़ी हस्तियों के साथ ही विश्व और देश के बड़े नेताओं के अकाउंट हैं। भारत के सत्ता-पक्ष और विपक्ष के बीच ट्विटर वार छिड़ना आम बात हो गई हैं। ट्विटर पर फॉलोवर्स के मामले में भारत में नरेंद्र मोदी देश में नम्बर वन पर हैं तो आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दूसरे नम्बर पर हैं। दोनों ही नेता ट्विटर पर काफी एक्टिव रहते हैं। लेकिन कुछ दिनों से देखा जा रहा है कि दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी विरोधी ट्वीट करना बंद कर दिया हैं। लोकसभा चुनाव के बाद केजरीवाल ने मोदी और मोदी सरकार के विरोध में ट्वीट करना बंद कर दिए। इसके पीछे की वजह दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष ने बताई हैं।

लोकसभा चुनाव में मोदी को मिली बड़ी जीत के बाद बन्द कर दिए केजरीवाल ने ट्वीट 

2015 में जब केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री बने थे तब से ही उनका भाजपा के साथ तनाव बढ़ने लग गया था। तब से ही केजरीवाल पीएम मोदी एवं उनकी सरकार के नीतियों के विरुद्ध काफी ट्वीट करने लगे थे। लोकसभा चुनाव के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ट्वीट पर पीएम मोदी के साथ ही भाजपा पर भी काफी हमलावर होते थे। चुनाव के दौरान पीएम मोदी विरोधी ट्वीट केजरीवाल द्वारा किए जाते थे। साथ ही दिल्ली के भाजपा प्रत्याशियों के विरुद्ध भी केजरीवाल ट्वीट करते थे। पीएम मोदी के अलावा केजरीवाल अमित शाह के विरुद्ध भी ट्वीट किए थे। लेकिन अचानक से केजरीवाल में बदलाव आ गया हैं। लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी को मिली प्रचंड जीत के बाद केजरीवाल ने 23 मई को ट्वीट कर मोदी को ऐतिहासिक जीत की बधाई देते हुए दिल्ली की जनता की भलाई के लिए पीएम से सहयोग की उम्मीद करने वाला ट्वीट किया था।

इस वजह से केजरीवाल ने बंद किए मोदी विरोधी ट्वीट –

AAP अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री केजरीवाल और पीएम नरेंद्र मोदी की 20 जून को मुलाकात हुई थी। जिसके बाद उन्होंने केंद्र सरकार के साथ काम करना एवं सरकार को सहयोग करने वाला ट्वीट किया था। जिसके बाद पीएम मोदी ने केजरीवाल और केजरीवाल ने मोदी को जन्म दिन की बधाई वाले ट्वीट देखे गए थे। अचानक केजरीवाल द्वारा मोदी विरोधी ट्वीट बंद करने की वजह दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बताई हैं। तिवारी ने कहा कि “रंग बदनले में माहिर लोग मौसम के अनुसार ही काम करेंगे, उन्हें एहसास हो गया कि मोदी के खिलाफ खड़े होने का समय नही हैं लेकिन लोग होशियार हैं।” तिवारी ने यह भी कहा कि “केजरीवाल समझ गए हैं कि जनता मोदी के साथ हैं।” “पीएम मोदी के नेत्रत्व में लोकसभा चुनाव में भाजपा को मिली जीत के बाद केजरीवाल को अहसास गया कि जनता मोदी और भाजपा के साथ हैं, इसलिए केजरीवाल ने अपने हाथ वापस खींच लिए हैं।”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments