मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे पर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ED ने कोर्ट में दाखिल किया आरोप पत्र, बढ़ गई कमलनाथ की मुश्किलें, जानिए क्या है पूरा मामला 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की मुश्किले बड़ती जा रही है। पूरी चार सितंबर से न्यायिक हिरासत में है। सीएम कमलनाथ के भांजे को  प्रवर्तन निदेशालय ने कथित अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकाॅप्टर घोटाले से जुड़े धन शोधन मामले में गिरफ्तार  किया था। दरअसल पुरी पर 12 वीवीआईपी हेलीकाॅप्टर खरीदने में अनियमितताओं के बाद धन शोधन का मामला दर्ज किया गया था। इसी मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली की न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया है। जांच एजेंसी ने 2 नवंबर को दिल्ली के विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार के समक्ष आरोप पत्र दाखिल किया है। जिसके बाद सीएम कमलनाथ का के भांजे रतुल पुरी की मुश्किले बढ़ती हुई दिखाई दे रही है।

यह है पुरा मामला 

17 अगस्त को सीबीआई ने धन शोधन निरोधक कानून के तहत एक एफआईआर दर्ज की थी। जिसमें सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया द्वारा 354 करोड़ रूपये के बैंक धोखाधड़ी मामले में सीएम कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी, उनके पिता दीपक पूरी और मां नीता पुरी पर सहीत अन्य लोगो पर प्रकरण दर्ज किया था। सीएम कमलनाथ के भांजे पर इटली के फिनमेकैनिका की ब्रीटेन नियंत्रित कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड से 12 वीवीआईपी हेलीकाॅप्टर खरीदने में कथित अनियमितताओं के बाद धन शोधन का मामला है। इस मामले में जांच एजेंसी ने अपनी कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को 4 सितंबर को गिरफ्तार किया था जिसके बाद से ही वे न्यायिक हिरासत में है। इसी मामले में अब प्रवर्तन निदेशालय ने एक पूरक आरोपपत्र दाखिल किया है। जिससे उनकी मुश्किलें बड़ गई है।

Leave a Comment