भारी विरोध के बाद मोदी सरकार को पलटना पड़ा फैसला, चुनाव से डर गई

सरकार ने बचत योजनाओं के ब्याज दर में कटौती के ऐलान को वापस ले लिया है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि लघु बचत योजनाओं यानी छोटी बचत की योजनाओं पर पुरानी ब्याज दर जारी रहेंगी। वित्त मंत्री ने आज सुबह एक ट्वीट कर यह जानकारी दी। उनके ट्वीट करते ही कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए और सरकार को घेरने की कोशिश की।
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि ‘मोदीशाहनिर्मला सरकार’ चुनाव से डर गई है इसलिए उन्होने यह फैसला वापस लिया है। कांग्रेस नेता ने लिखा “चुनाव के डर से मोदीशाहनिर्मला सरकार ने अपना गरीब व आम आदमी की Small Savings की ब्याज दर का निर्णय बदल दिया। धन्यवाद। लेकिन निर्मला जी यह वादा भी कर दीजिए कि चुनाव हो जाने के बाद भी आप फिर से ब्याज दर नहीं घटाएँगीं।”

एक ञ ट्वीट करते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा “निर्मला जी यह भी हमें बता दें कि किसकी “Oversight” से यह आदेश निकले और ऐसे समय में जब भाजपा लोगों को लुभाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है यह आदेश कैसे निकल गया।” दिग्विजय ने ब्याज दरों की एक तस्वीर भी शेयर की और लिखा “सरकार ने PPF, NSC के ब्याज दर में कटौती की है। मोदीशाहभाजपा शासन काल में मज़दूरों और सेवारत कर्मियों पर ही गाज गिरती है। उनकी गाढ़ी कमाई की जमा राशि पर ब्याज दरें कम कर दी गई है।”
modi shah


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के ट्वीट पर यूजर्स ने भी अपनी प्रतिक्रियाएं दी और सरकार से सवाल पूछे। एक यूजर ने लिखा “स्कीम इतने जल्दी फ्लॉप हो गई, चुनाव आ गए और बहन दर गई है।” एक अन्य यूजर ने लिखा “आज 1 अप्रैल है और यह मैसेज एक अप्रैल फूल हो सकता है। देश की अर्थव्यवस्था खराब करने के लिए आप को इस्तीफा दे देना चाहिए।”

Leave a Comment