Home Political Samachar बिहार में अब शहाबुद्दीन की मौत पर सियासत, लालू परिवार की इस...

बिहार में अब शहाबुद्दीन की मौत पर सियासत, लालू परिवार की इस चाल पर…

पटना, ऑनलाइन डेस्‍क। Politics on Shahabuddin Death राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के कद्दावर नेता व बिहार के सिवान के बाहुबली पूर्व सांसद रहे मो. शहाबुद्दीन (Md. Shahabuddin) की बीते एक मई को कोरोनावायरस संक्रमण (CoronaVirus Infection) के कारण दिल्‍ली के एक अस्‍पताल में मौत हो गई। उनकी मौत के 13 दिनों बाद गुरुवार को आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने सिवान जाकर शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा (Osama) से मुलाकात की। लालू परिवार के किसी सदस्‍य की शहाबुद्दीन के स्‍वजनों से इस पहली मुलाकात को लेकर सियासत गर्म हो गई है। जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) के दल ‘हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा’ (HAM) ने सवाल किया कि शहाबुद्दीन के बेटे ओासामा से तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) मुंह क्‍यों छिपा रहे हैं? उधर, आरजेडी से इस्‍तीफा दे चुके विधान परिषद के पूर्व उपसभापति सलीम परवेज (Salim Parwaz) ने कहा कि शहाबुद्दीन जब अस्पताल में थे तब लालू परिवार (Lalu Family) ने उनका साथ नहीं दिया, अब घड़ियाली आंसू बहाने से कोई फायदा नहीं होने वाला है।

सिवान में शहाबुद्दीन के बेटे से मिले तेज प्रताप यादव

विदित हो कि आरजेडी विधायक व पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने सिवान में शहाबुद्दीन के पैतृक गांव प्रतापपुर जाकर उनके बेटे ओसामा से मुलाकात की थी। दिल्‍ली के दीनदयाल उपाध्‍याय अस्‍पताल में मौत व दिल्‍ली में ही अंतिम संस्‍कार के बावजूद दिल्‍ली में मौजूद लालू परिवार का कोई सदस्‍य शहाबुद्दीन के स्‍वजनों से मिलने तक नहीं गया। मौत के 13 दिनों बाद लालू परिवार के किसी सदस्‍य की शहाबुद्दीन के स्‍वजनों से मुलाकात की। तेज प्रताप की इस मुलाकात को शहाबुद्दीन के परिवार की नाराजगी को दूर कर डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश माना जा रहा है। इसपर सियासत गर्म हो गई है।

शहाबुद्दीन के बेटे से आखिर क्‍यों मुंह छिपा रहे तेजस्‍वी

हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने पूछा है कि आखिर तेजस्वी यादव शहाबुद्दीन के परिवार से मिलने क्‍यों नहीं जा रहे हैं? तेजस्वी ने कौन सा पाप किया है कि वे शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा से मुंह छिपा रहे हैं? ओसामा से तेज प्रताप की मुलाकात को आरजेडी द्वारा डैमेज कंट्रोल की कोशिश बताते हुए ‘हम’ प्रवक्‍ता ने कहा कि आरजेडी की हकीकत दुनिया जान चुकी है। उसके नेता कितनी भी कोशिश कर लें, कुछ नहीं होने वाला है।

लालू परिवार ने दिल्‍ली में रहकर भी नहीं की मुलाकात

बिहार विधान परिषद के उपसभापति रहे आरजेडी के पूर्व नेता सलीम परवेज ने तेज प्रताप की ओसामा से मुलाकात पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा है कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। मो. शहाबुद्दीन जब अस्पताल में भर्ती थे और जब उनका परिवार मुसीबत में था, तब लालू परिवार ने कोई साथ नहीं दिया। दिल्‍ली में पांच किलोमीटर के दायरे में रहने के बावजूद लालू परिवार का कोई भी सदस्‍य न तो शहाबुद्दीन को देखने अस्पताल गया, न ही मौत के बाद अंतिम संस्कार में शामिल हुआ। अब चले हैं घड़ियाली आंसू बहाने। सलीम परवेज ने शहाबुद्दीन की मौत को निर्मम हत्‍या करार देते हुए कहा कि वे इस मामले की जांच के लिए राष्ट्रपति और राज्यपाल से आग्रह करेंगे।

tejashwi yadav osama

शहाबुद्दीन के स्‍वजनों से मिले जेडीयू नेता व पप्‍पू यादव

शहाबुद्दीन की मौत के बाद सबसे चौंकाने वाला बयान जनता दल यूनाइटेड नेता राधा चरण का रहा। बिहार विधानसभा चुनाव से ठीक पहले आरजेडी छोड़ जेडीयू में शामिल हुए राधाचरण सेठ ने सिवान जाकर शहाबुद्दीन के स्‍वजनों से मुलाकात की। उन्‍होंने इस मुलाकात काे गैर राजनीतिक व व्‍यक्तिगत भी बताया। हालांकि, यह भी कहा कि राजनीति में संभावनाओं का विकल्‍प हमेशा खुला रहता है। शहाबुद्दीन के स्‍वजनों से मिलने वालों में जन अधिकार पार्टी के अध्‍यक्ष व पूर्व सांसद पप्‍पू यादव भी शामिल हैं। हजाल ही में अपनी गिरफ्तारी के ठीक पहले उन्‍होंने सिवान जाकर शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा से मुलाकात की थी। इस मामले में तेज प्रताप यादव ने कहा कि शहाबुद्दीन हमेशा आरजेडी और लालू परिवार के साथ खड़े रहे। हालांकि, यह पूछने पर कि लालू परिवार के सदस्‍य दिल्‍ली में रहने के बावजूद शहाबुद्दीन को देखने या उनके अंतिम संस्‍कार में क्‍यों नहीं गए, उन्‍होंने कोई जवाब नहीं दिया। तेज प्रताप यादव से पहले दानापुर के आरजेडी विधायक रीतलाल यादव ने भी सिवान जाकर शहाबुद्दीन के बेटे से मुलाकात की थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments