लोकसभा चुनाव में अपने करीबी से हारे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जाहिर किया अपना दुख, यह बाते कहते हुए भर आई उनकी आंखें…

मध्यप्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया इन दिनों अपनी जमीन तलाशते नजर आ रहें। 2019 के लोकसभा चुनाव में सिंधिया को एक समय में उनके खास करीबी में रहने वाले केपी सिंह यादव ने ऐतिहासिक वोटो से हराया था। सिंधिया ने इसकी पीड़ा आज जाहिर की हैं। मध्यप्रदेश के शिवपुरी के एक दिवसीय प्रवास पर पहुँचे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी हार की बात करते हुए भावुक हो गई और उनकी आँखे भर आई।

लोकसभा चुनाव के नतीजों से दिल में दुःख हैं

शिवपुरी के प्रवास पर पहुँचे सिंधिया ने विगत दिनों खुले में शौच करने पर पिट-पिट कर हत्या करने वाले मासूमों के परिजनों से मुलाकात की तथा पीड़ित परिवारो को 50-50 लाख का मुआवजा देने की मांग की। इस दौरान चर्चा में सिंधिया ने लोकसभा चुनाव के नतीजों पर दुःख जताया। सिंधिया ने भारी आवाज में कहा कि लोकसभा के नतीजे से दिल में दुःख हैं लेकिन मैं अपने क्षेत्र के लिए अपना काम करता रहूंगा। मेरी जितनी हैसियत हैं उतना काम कर रहा हूं। सिंधिया ने आगे कहा कि बस इतना कह सकता हूँ कि आप लोग मुझमे कोई कमी नही पाओगे, आज मेरी भी सीमा हैं। यह कहते हुए सिंधिया की आंखें भर आई।

लोकसभा चुनाव में सिंधिया को मिली हार से वे काफी दुखी हैं। लेकिन उन्होंने अपना दुख कभी जाहिर नही किया लेकिन आज यह कहते हुए सिंधिया की आंखें भर आई। जिससे उनके दुख का अंदाजा लगाया जा सकता हैं। एक समय सिंधिया के खास रहने वाले कृष्णपाल सिंह यादव ने उन्हें लोकसभा चुनाव में हराया था।

Leave a Comment