सब्जी बेचने वाला बना नगरपालिका का मेयर, जानें- कैसे रातोंरात बदल गई किस्मत

एक सब्जी बेचने वाला नगर पालिका का अध्यक्ष बना गया। पढ़िए किस्मत ने कैसे पलटा पासा : आंध्र प्रदेश में एक सब्जी बेचने वाले की किस्मत अचानक तब बदल गई, जब उसे नगर पालिका का अध्यक्ष बना दिया गया। आंध्र प्रदेश की सत्तारूढ़ पार्टी वाईएसआर कांग्रेस ने गुरुवार को शेख बाशा नाम के सब्जी बेचने वाले व्यक्ति को रायचोटी नगर पालिका का नव निर्वाचित अध्यक्ष बना दिया गया। शेख बाशा एक डिग्री धारक हैं। उन्होंने कहा कि नगरपालिका चुनाव लड़ने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा चुने जाने के बाद से उनके जीवन ने एक यू-टर्न ले लिया है।

शेख बाशा ने NDTV से बात करते हुए कहा, “मैं मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने मेरे जैसे किसी व्यक्ति को रेयाची नगर पालिका का अध्यक्ष बनने का अवसर दिया। डिग्री धारक होने के बावजूद, बेरोजगारी के कारण, मुझे जीवित रहने के लिए अपने गाँव में सब्जियाँ बेचनी पड़ीं। जीवन में मेरी कोई दिशा नहीं थी। यह तब बदला जब वाईएसआर कांग्रेस ने मुझे एक काउंसिलर के टिकट पर चुनाव लड़ने का मौका दिया। अब, मुझे नगर पालिका का अध्यक्ष चुना गया है।”

मुख्यमंत्री ने राज्य में पिछड़े समुदायों के लिए सीटों की अधिकतम संख्या को पूरा किया है। हम उन्हें ऐसा करने और मेरे जैसे समाज के आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए धन्यवाद करते हैं।”

वाईएसआर कांग्रेस ने राज्य में 86 नगरपालिकाओं / नगर निगमों में से 84 पर कब्जा कर लिया। चुनाव का सबसे सराहनीय पहलू यह था कि जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली पार्टी ने महिलाओं को 60.47 प्रतिशत और पिछड़े समुदायों को 78 प्रतिशत पद दिए।

rahul gandhi

Leave a Comment