Home राष्ट्रीय मुस्लिम डिलीवरी बॉय से किराना सामान ना लेने पर गिरफ्तार हुआ शख्स,...

मुस्लिम डिलीवरी बॉय से किराना सामान ना लेने पर गिरफ्तार हुआ शख्स, 15 हजार रुपए की चपत भी लगी

कोरोना वायरस और लॉकडाउन की वजह से हर कोई अपने घर में कैद होकर रह गया हैं. ऐसे में लोगो को राशन पानी सहित कई जरूरी सामान ऑनलाइन ही घर बुलाना पड़ रहे हैं. ये सभी सामान हमारे पास डिलीवरी बॉय लेकर आते हैं. कोरोना जैसे माहोल में भी काम कर ये डिलीवरी बॉय अपनी जान जोखिम में सिर्फ इसलिए डालते हैं ताकि हम तक जरूरी सामन सुरक्षित ढंग से आ सके. लेकिन महाराष्ट्र के एक शख्स ने एक डिलीवरी बॉय से किराना सामान लेने से सिर्फ इसलिए इंकार कर दिया क्योंकि वो एक मुस्लिम था. इस घटना के बाद उस शख्स की गिरफ़्तारी तक हो गई. आइए इस पुरे मामले को विस्तार से जानते हैं.

मीडिया सूत्रों के अनुसार ये पूरा मामला महाराष्ट्र में ठाणे जिले के कशीमिरा इलाके का हैं. यहाँ 51 साल के गजानंद चतुर्वेदी नाम के एक शख्स ने ऑनलाइन किराने का सामान आर्डर किया था. जब डिलीवरी बॉय सामान लेकर उनके घर पहुंचा तो गजानंद चतुर्वेदी ने कथित रूप से इस सामन को लेने से इंकार कर दिया. उन्होंने कहा कि वे एक मुस्लमान के हाथ से कोई भी सामान नहीं लेंगे. इसके बाद मंगलवार के दिन IPC की धरा 295ए (धार्मिक भावना को आहत  पहुंचना और दुर्भावनापूर्ण हरकत करना) के तहत उनके ऊपर मामला दर्ज हो गया.

वरिष्ठ निरीक्षक संजय हजारे के अनुसार जिस शख्स ने सामान पहुँचाया था उसी ने गजानंद चतुर्वेदी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई हैं. उनका आरोप हैं कि मंगलवार सुबह जब वो सामान की डिलीवरी देने गया था तो चतुर्वेदी ने कहा कि वो मुसलमान के हाथ से कोई सामान नहीं लेगा. शिकायत के बाद बुधवार के दिन शख्स को अरेस्ट कर ठाणे के सेशन कोर्ट में किया गया. हालाँकि यहाँ उस शख्स को 15 हजार रुपए देकर निजी मुचलके पर जमानत मिल गई.

डिलीवरी बॉय की पहचान 32 वर्षीय उस्मान बरकत पटेल के रूप में हुई हैं. उस्मान मंगलवार सुबह 9.40 पर मीरा रोड स्थित सृष्टि कॉप्लेक्स किराना का सामान डिलीवर करने गया था. इस दौरान उसने मास्क और ग्लव्स दोनों ही पहन रखे थे. जब चतुर्वेदी और उनकी पत्नी ने उनका नाम जाना तो उससे सामान लेने से मना कर दिया. ऐसे में उस्मान ने अपने मोबाइल से पूरी घटना रिकॉर्ड कर ली.

corona marij in india today

इस दौरान डिलीवरी बॉय ने उन्हें कहा कि इस संकट की घड़ी में मैं अपनी जान जोखिम में डालकर आपके फ्लैट तक सामान पहुँचाने आया हूँ. ऐसे में सामान आप को लेना ही पड़ेगा

गौरतलब हैं कि फिलहाल पुरे देश में 3 मई तक का लॉकडाउन हैं. इस दौरान लोगो को बिना जरूरी काम के घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं हैं. इसलिए अधिकतर लोग अपनी जरूरत का सामान ऑनलाइन आर्डर कर के ही मंगवा रहे हैं. 23 अप्रैल तक देश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या का आकड़ा 21 हजार के ऊपर चला गया हैं. इस खतरनाक वायरस की वजह से अभी तक 681 लोगो की जान जा चुकी हैं. वहीं 4258 लोग रिकवर भी हो चुके हैं.

वैसे इस पुरे मामले पर आपके क्या विचार हैं हमें कमेंट में जरूर बताए.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments