सख्त ट्रेफिक कानून नकारने वाले राज्यों पर बोले परिवहन मंत्री गडकरी – आपको हर साल होने वाली डेढ़ लाख मौतों की फिक्र नहीं ?

देश में केन्द्र सरकार द्वारा लागू किए सख्त ट्रेफिक नियम से देश में हाहाकार मचा हुआ है। यातायात पुलिस वाहनों के किमत से भी ज्यादा चालान काट रही है। देश के कई राज्यों ने इस नए ट्रेफिक कानून को अपनाने से इनकार किया है। साथ ही कुछ राज्य इसमें संसोधन की मांग कर रहें है। इसी बिच आज केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का एक और बयान सामने आया है। गडकरी ने साफ कर दिया है कि यह कोई राजस्व कमाने की स्किम नही है।

राजस्व कमाना नही बल्की मौतो की फिक्र है

नये ट्रेफिक कानून को कई राज्योें की सरकार ने लागू करने से इनकार कर दिया है। इसको लेकर आज नितिन गडकरी ने कहा की ‘‘यह राजस्व कमाने की स्कीम नही, क्या आप लोग हर साल होने वाली 1.5 लाख मौतों की फिक्र नही करते? अगर राज्य सरका बढे़ हुए जुर्माने को घटना चाहती है तो क्या यह सही नही है कि लोग कानून को न ही याद रखेंगे और न ही उन्हें इसका डर होगा।’’

आपको बता दे की केन्द्र द्वारा लागू किए गए नये ट्रेफिक कानून को मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, पश्चिम बंगाल की सरकार ने अपने प्रदेश में लागू करने से इनकार कर दिया है। इधर गुजरात सरकार ने इसमें संशोधन कर लागू करने की बात कही है। ऐसे में नितिन गडकरी का बयान उन राज्यों के लिए है जो इस अपने प्रदेश में लागू करने से मना कर चुके है।

Leave a Comment