पाकिस्तान के आतंकवाद को बेनकाब करने वाले पीएम मोदी से इमरान सरकार को नफरत, करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन पर मोदी को नहीं बल्कि पूर्व पीएम मनमोहन को भजेंगे निमंत्रण, जानिए आखिर क्या है पूरा मामला 

पाकिस्तान की शरण में पल रहे आतंकवाद के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार अंतरराष्ट्रीय मंचों पर मुद्दा उठा रहा हैं। पाकिस्तान का चेहरा बेनकाब करने वाले पीएम मोदी से पाकिस्तान और पाकिस्तान की इमरान सरकार कितनी नफरत करने लगी हैं इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता हैं कि 9 नवम्बर को होने वाले करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन पर पीएम मोदी को ना बुलाते हुए पाकिस्तान ने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को आमंत्रित किया। पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने कहा हैं कि हम मनमोहन सिंह को करतारपुर कॉरिडोर के उदघाटन के लिए निमंत्रण भेजेंगे।

बौखलाए पाकिस्तान को पीएम मोदी से नफरत –

दरअसल करतारपुर गुरु नानक देव की जन्म स्थली हैं और जहाँ से सिख समुदाय की विशेष आस्था जुडी हुई हैं। जब भारत एवं पाकिस्तान का बंटवारा हुआ था तब करतारपुर पाकिस्तान के हिस्से में चल गया था। करतारपुर भारत की सीमा से ज्यादा दूर नही हैं। इसी के चलते भारत की सीमा से करतारपुर साहिब गुरुदारे तक कॉरिडोर बनाया जा रहा हैं और इस कॉरिडोर के माध्यम से भारत का सिख समुदाय बिना किसी वीजा से करतारपुर के दर्शन कर सकेंगे। इस कॉरिडोर का उदघाटन 9 नवम्बर को होगा। कॉरिडोर के उद्घाटन पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि हम “भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समाहरोह के लिए निमंत्रण देना चाहते हैं और हम उन्हें औपचारिक निमंत्रण भी भेजेंगे।” विंदेश मंत्री कुरैशी ने कहा कि “पूर्व पीएम मनमोहन सिंह भारत में सिख समुदाय का भी प्रतिनिधित्व करते हैं।”

आपको बता दे की पीएम मोदी विश्व की हर मंच से पाकिस्तान की सरपरस्ती में पलने वाले आतंकवाद को बेनकाब कर रहे हैं। जो पाकिस्तान रास नही आ रहा हैं। पाकिस्तान पीएम मोदी से नफरत करने लगा हैं और करतारपुर कॉरिडोर के बहाने नई चाल चली हैं। इधर कांग्रेस सूत्रों ने यह जानकारी दी है कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पाकिस्तान का यह निमंत्रण स्वीकार नही करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *