पत्थलगड़ी विवाद : जोगी कांग्रेस की जांच कमेटी ने कहा, जहां पत्थलगड़ी हुई वहां मूलभूत सुविधाओं की कमी

रायपुर।पत्थरगड़ी मामले में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की ओर से गठित जांच समिति ने अपनी रिपोर्ट पार्टी प्रमुख को सौंप दी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पत्थलगड़ी में लिखी गईं बातें सही हैं। जहां भी पत्थलगड़ी हुई है वहां मूलभूत सुविधाओं की कमी है। वहीं विधायक आरके राय ने आरोप लगाया है कि पत्थलगड़ी तोड़ते समय जय जूदेव के नारे लग रहे थे।

– जांच रिपोर्ट के बारे में समिति के अध्‍यक्ष आरके राय ने बताया कि पत्थरगड़ी में लिखी गईं बातें गैर वाजिब नहीं है। जांच कमेटी की 14 सदस्यीय टीम ने जशपुर जिले के उन गांवों का दौरा किया जहां पत्थलगड़ी आंदोलन हुआ था।

– पत्रकारों को संबोधित करते हुए आरके राय ने कहा कि पत्थर गाड़ने की परंपरा पुरानी है। जांच कमेटी के मुताबिक वहाँ मूलभूत सुविधाएं जैसे पानी, बिजली, सड़क, चिकित्सा, स्कूल जैसे सुविधाओं की कमी है।

– गांव में पूजा के स्थान पर, गांव की सीमा, अपने जमीन की सीमा स्थल पर पत्थर गाड़कर उस पर लिखने की ये पुरानी परंपरा हैं। लेकिन भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने इसे दूसरे रूप से दिखाया है। उन्होंने यह भी कहा कि हम लोग ट्राइबल समाज के साथ हैं और उनके साथ जो भी समस्या आएगी जोगी कांग्रेस उनके साथ है। चाहे पत्थरगड़ी का मामला हो, या चाहे अन्य मामला, पार्टी उनके साथ है।

जब पत्थर तोड़ा जा रहा था तब लग रहे थे जय जूदेव के नारे

– आरके राय ने कहा कि जिस दिन वहां पत्थरों को तोड़ा जा रहा था, उस दिन वहां पर जय जूदेव के नारे लग रहे थे और उसका पूरा सपोर्ट ये सरकार कर रहीं थी। उनके गृह मंत्री भी उनका सपोर्ट कर रहे हैं। आरके राय ने कहा कि पत्थरों में कहीं पे ऐसा नहीं लिखा हैं कि वहां पे किसी अन्य व्यक्ति का आना मना है इस पत्थर में आदिवासी को जो ताकत मिला है उसके बारे में इस पत्थर पर लिखा है।

Leave a Comment