शिवसेना प्रमुख ठाकरे ने की सावरकर को भारत रत्न देने की मांग, बोले- सावरकर पहले प्रधानमंत्री होते, तो पाकिस्तान पैदा ही नहीं हुआ होता

देश के अन्य राज्यों के साथ ही महाराष्ट्र में भी आगामी महिनों में विधानसभा के चुनाव होना है। ऐसे में महाराष्ट्र में चुनावी सरगर्मिया व्यापक स्तर पर चल रही है। राजनीतिक पार्टीयों के नेता दल-बदल कर रहे है तो साथ ही एक-दूसरे पर वार-पलटवार का दौर जारी है। ऐसे में अब सही शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का एक बयान सामने आया है। जिसमें उन्हानें कांग्रेस पर वार करते हुए वीर सावरकर को भारत रत्न दिये जोन की मांग कर दी है।

सावरकर भारत रत्न से नवाजा जाना चाहिए 

 

महाराष्ट्र के मुंबई में सावरकर पर आधारीत आत्मकथा “सावरकरः इकोज फ्राम अ फाॅरगाटेन पास्ट” के विमोचन के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में शिवसेना प्रमुख ठाकरे ने कहा की सावरकर को भारत रत्न सम्मान से नवाजा जाना चाहिए। हम महात्मा गांधी और जवाहर लाल नेहरू द्वारा किए गए काम से इनकार नही करते है लेकिन देश ने दो से अधिक परिवारों को राजनीतिक परिदृष्य से अवतरित होते हुए देखा। शिवसेना प्रमुख ठाकरे ने सावरकर की तुलना सरदार वल्लभभाई पटेल से करते हुए कहा कि अगर सावरकर देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो कश्मीर की बात तो दूर पाकिस्तान ही पैदा नही हुआ होता।  शिवसेना प्रमुख यहा तक नही रूके उन्होंने कांग्रेस पर भी हमला बोला। ठाकरे ने कहा की सावरकर 14 वर्षो तक जेल में रहे थे, अगर सावरकर की तरह नेहरू 14 मिनट भी जेल के भीतर रहते तो उन्हें वीर कहने में गुरेज नही होता।

Leave a Comment