Home Political Samachar कभी सोनाली बेंद्रे के प्यार में पागल थे राज ठाकरे, इस वजह...

कभी सोनाली बेंद्रे के प्यार में पागल थे राज ठाकरे, इस वजह से अधूरी रह गई थी इनकी प्रेम कहानी

बॉलीवुड के गलियारों में प्रेम कहानियां तो बहुत बनीं लेकिन हर रिश्ता शादी के मंडप तक नही पहुंच पाया। इस लिस्ट में बॉलीवुड की खूबसूरत अदाकारा सोनाली बेंद्रे का नाम भी शामिल है। 90 के दशक में सोनाली हर दिल पर राज करती थीं और उनके लाखों चाहने वाले थे। इसमें से एक थे महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे जिन्होंने हाल ही में 14 जून को अपना 52वां जन्मदिन मनाया है। अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले राज ठाकरे बाल ठाकरे की परछाईं कहे जाते हैं। उनकी राजनीतिक जिंदगी के किस्से जितने दिलचस्प रहे हैं उतनी ही रोचक रही है उनकी निजी जिंदगी। आपको बताते है उस समय की बात जब राज ठाकरे सिर्फ शिवसेना पार्टी के उत्तराधिकारी बनने का ही नहीं बल्कि सोनाली बेंद्रे का भी सपना देखा करते थे।

सोनाली के करीब जाने लगे थे राज ठाकरे

राज ठाकरे अपने ताऊ बाल ठाकरे के काफी करीब थे। अपनी राजनीतिक ज्ञान के दम पर उन्होंने खुद को बाल ठाकरे का उत्तराधिकारी मान लिया था। हालांकि उनकी जिंदगी में एक वक्त ऐसा आया जब उन्होंने शिवसेना का साथ छोड़ा और अपनी अलग पार्टी बनाई। राज ठाकरे को लगा था कि वो अपनी पार्टी के दम पर सत्ता में वो स्थान हासिल करेंगे जो बाल ठाकरे का है, लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। हालांकि उनकी निजी जिंदगी में भी कुछ ऐसा था जिसे वो पूरा करना चाहते थे, लेकिन वो भी नहीं हो पाया।

90 के दशक की बात है जब पर्दे पर उभरते कलाकार लोगों का मनोरंजन कर रहे थे और महाराष्ट्र के साथ साथ मुंबई में बाल ठाकरे सत्ता पद पर आसीन थे। उस वक्त सोनाली बेंद्रे अपने करियर की शुरुआत कर चुकी थीं। सोनाली धीरे धीरे सफलता की ओर बढ़ रही थीं तभी उनके अफेयर की चर्चा राज ठाकरे से होने लगी। राज ठाकरे सोनाली से काफी इंप्रेस हो चुके थे। वहीं सोनाली को भी राज काफी अच्छे लगने लगे थे। ये भी कहा जाता है कि उस वक्त राज ठाकरे की वजह से ही सोनाली को इंडस्ट्री में ब्रेक मिला था।

बाल ठाकरे की वजह से छोड़ा था सोनाली का साथ

इनके अफेयर के किस्से लोगों के सामने तब आने लगे जब 1996 में पहली बार पॉप स्टार माइकल जैक्शन भारत आए थे। उस वक्त माइकल जैक्शन का स्वागत सोनाली बेंद्रे और राज ठाकरे ने मिलकर किया था। यहीं से इनके अफेयर  के किस्से सामने आने लगे थे। दोनों का प्यार परवान चढ़ता जा रहा था यहां तक की दोनों ने शादी करने का मन भी बना लिया था। हालांकि उस वक्त राज पहले से शादीशूदा थे इसलिए सोनाली से शादी करना उनके लिए आसान नहीं था।

 

जब राज ठाकरे के इस अफेयर और शादी के सपनों के बारे में बाल ठाकरे को पता चला तो उन्होंने राज को अपने घर बुलाया। बाल ठाकरे ने ने उन्हें समझाया कि वो पार्टी का बड़ा चेहरा हैं और पहले से शादीशूदा हैं। अगर वो कोई ऐसा कदम उठा लेते हैं तो फिर उनकी शादी तो खराब होगी ही साथ ही पार्टी की इमेज को भी नुकसान पहुंचेगा। इतना ही नहीं खुद उनकी इमेज भी खराब हो जाएगी।

राज ठाकरे शिवसेना से जुड़े हुए थे और ऐसे वक्त पर वो पार्टी और परिवार से बगावत नहीं कर सकते थे। उन्होंने अपने ताऊ के कहने पर सोनाली के साथ शादी की बात खत्म कर दी। हालांकि कहा जाता है कि इसके बाद भी दोनों में लंबे समय तक अफेयर चला था। सोनाली से इतना प्यार करने के बाद भी वो उनसे रिश्ते तोड़ने के लिए तैयार हो गए थे। इसकी वजह ये बताई जाती है कि राज ठाकरे को लगता था कि बाला साहेब के बाद पार्टी की कमान वहीं संभालेंगे।

जब राज के प्यार पर भारी पड़ गई सत्ता

उस वक्त उन्होंने अपने ताऊ बाल ठाकरे की बात इसलिए मान ली क्योंकि वो पार्टी संभालने का सपना देख रहे थे। हालांकि उनकी इस कुर्बानी का कोई मतलब नहीं निकला क्योंकि बाल ठाकरे के बाद शिवसेना पार्टी की सारी बाग-डोर उद्धव ठाकरे को दे दी गई। राज ठाकरे इस फैसले से बहुत नाराज हुए और उन्होंने शिवसेना का साथ छोड़ अपनी अलग पार्टी बना ली। हालांकि अलग पार्टी बनाने के बावजूद राज ठाकरे वो गौरव नहीं हासिल कर पाए जो बाल ठाकरे के पास थी।

वहीं दूसरी तरफ सोनाली का नाम और दूसरे एक्टर से जुड़ने लगा जिसमें सुनील शेट्टी और पाक्स्तानी बॉलर शोएब अख्तर भी शामिल थे। इनके साथ सोनाली के अफेयर के खूब चर्चे हुए, लेकिन किसी के साथ भी सोनाली का रिश्ता ज्यादा दिनों तक नहीं चला। सोनाली ने फिल्मों खूब सफलता हासिल की और फिर 2 नंवबर 2002 को सोनाली ने गोल्डी बहल से शादी कर ली। उनकी शादी में कई बड़ी हस्तियां शामिल हुई थीं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments