यूपी में बीजेपी छोड़ने की मची होड़! 48 घंटे में 6 विधायकों ने दिया इस्तीफा

UP Chunav 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के तारीखों का एलान हो चुका है. प्रदेश में कुल सात चरणों में चुनाव होने वाले हैं, जो 10 फरवरी से लेकर 7 मार्च तक चलेगा. 2022 में किसके हाथ लगेगी सत्ती की चाभी इसका ऐलान 10 मार्च को होगा. वहीं चुनाव के तारीखों का ऐलान होते ही सूबे की सियासी सरगर्मी काफी बढ़ गयी है और साथ ही एक पार्टी को छोड़ कर दूसरे में जाने की होड़ भी. हाल के दिनों में भारतीय जनता पार्टी में सबकुछ ठीक देखने को नहीं मिला है. पिछले 48 घंटे में एक दो नहीं बल्कि 6 विधायकों ने BJP का दामन छोड़ दिया है. ये बात फिर से सत्ता में वापसी का दावा कर रही BJP के लिए किसी सिरदर्द से कम नहीं है.

यूपी में सियासी घटनाक्रम तेजी से बदल रह्रे हैं. कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफा देने के 24 घंटे के अंदर ही योगी सरकार के एक और मंत्री दारा सिंह चौहान ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. मौर्य के समर्थक माने जाने वाले तीन विधायकों ने भी इस्तीफा देना का ऐलान किया. वहीं बीजेपी विधायक अवतार सिंह भड़ाना भी पार्टी को छोड़कर सपा की सहयोगी दल आरएलडी में शामिल हो गये हैं.

यूपी में बीजेपी छोड़ने की मची होड़!

बुधवार को ओबीसी नेता दारा सिंह चौहान ने योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया. दारा सिंह पिछले 2 दिन में इस्तीफा देने वाले 6वें नेता हैं. हालांकि, इस दौरान एक कांग्रेस विधायक और एक सपा विधायक बीजेपी में शामिल भी हुए हैं.

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (up Election 2022) की तारीखों के ऐलान के बाद बीजेपी को पिछले 2 दिन में एक के बाद एक कर कई बड़े झटके लगे. इसी कड़ी में बुधवार को ओबीसी नेता दारा सिंह चौहान ने योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया. दारा सिंह पिछले 2 दिन में इस्तीफा देने वाले 6वें नेता हैं. हालांकि, इस दौरान एक कांग्रेस विधायक और एक सपा विधायक बीजेपी में शामिल भी हुए हैं.

बीजेपी को पिछले 2 दिन में कई बड़े झटके लगे.

दब बीजेपी के नेताओं की दिल्ली में उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर अहम बैठक हो रही थी, उसी बीच मंगलवार को कैबिनेट मंत्री और बड़े नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने योगी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया.इसके अलावा बीजेपी विधायक अवतार सिंह भड़ाना ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया और राष्ट्रीय लोकदल में शामिल हो गए.वहीं, मौर्य के समर्थक माने जाने वाले तीन विधायकों ने भी इस्तीफा देना का ऐलान किया.मंगलवार को बीजेपी के तिंदवारी से विधायक ब्रजेश प्रजापति, तिल्हार से विधायक रोशन लाल वर्मा और बिल्हौर से विधायक भगवती सागर ने भी मौर्य के बाद इस्तीफा दे दिया.

बीजेपी में शामिल हुए ये दो नेता

हालांकि, इस दौरान बीजेपी में कांग्रेस विधायक नरेश सैनी और सपा विधायक हरिओम यादव बुधवार को शामिल हुए. हरिओम यादव मुलायम सिंह यादव के रिश्तेदार हैं.