जब ममता बनर्जी के एक फोन से दिल्ली तक मची थी खलबली,…

पश्चिम बंगाल और असम की 69 सीटों पर गुरुवार को दूसरे फेज के चुनाव के लिए वोटिंग जारी है। बंगाल में 80% से ज्यादा वोटिंग हो चुकी है। चुनाव आयोग के मुताबिक, शाम 5:36 बजे तक बंगाल में 80.43% और असम में 73.03% मतदान हो चुका है। इस बीच बंगाल की हॉट सीट नंदीग्राम के एक पोलिंग बूथ पर जमकर हंगामा हुआ है। यहां पर TMC कार्यकर्ताओं का आरोप है कि उन्हें मतदान नहीं करने दिया जा रहा है। TMC ने BJP कार्यकर्ताओं पर मोयना सीट के 8 बूथ पर कब्जा करने का भी आरोप लगाया है। पार्टी ने इस मसले पर चुनाव आयोग के पास शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत में कहा गया है कि BJP कार्यकर्ता EVM पर कब्जा कर धांधली कर रहे हैं। यहां तैनात CRPF के जवान भी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

ममता के मोदी और शाह पर बड़े आरोप

ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर बड़े आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि PM मोदी चुनाव वाले दिन पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार कैसे कर सकते हैं? ममता ने आरोप लगाया कि अमित शाह सीधे केंद्र के भेजे सुरक्षाकर्मियों को आदेश दे रहे हैं। ये चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन है। West Bengal Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से नंदीग्राम के एक मतदान केंद्र पर फोन पर बात की. उन्होंने कहा, वह स्थानीय लोगों को अपना वोट डालने की अनुमति नहीं दे रहे हैं.
नंदीग्राम. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (PM Mamata Banerjee) ने गुरूवार को राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Governor Jagdeep Dhankad) को फोन कर शिकायत की कि नंदीग्राम के एक पोलिंग बूथ (Nandigram) पर सुबह से वोट नहीं डालने दिया जा रहा है. बता दे पश्चिम बंगाल में गुरूवार को दूसरे चरण के चुनाव (West Bengal Assembly Elections) हो रहे हैं. इसमें नंदीग्राम सीट पर भी मतदान जारी है जहां से ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं. इस सीट से भाजपा की ओर से टीएमसी सरकार में मंत्री रह चुके शुभेंदु अधिकारी मैदान में हैं. ममता बनर्जी ने राज्यपाल धनखड़ को फोन कर कहा कि “नंदीग्राम के एक बूथ पर सुबह से ही स्थानीय लोगों को मतदान नहीं करने दिया जा रहा है.” ममता ने कहा कि “सुबह से मैं घूम रही हूं. अब मैं आपसे अपील कर रही हूं, कृपया इस पर ध्यान दें.” राज्यपाल से बात करते हुए ममता बनर्जी का एक वीडियो भी सामने आया है.

पार्टी सूत्रों ने बताया कि बनर्जी इस हाई-प्रोफाइल विधानसभा सीट में मतदान पर नजर रख रही हैं. मतदान सुबह सात बजे मतदान आरंभ हुआ. इस बीच, स्थानीय तृणमूल नेताओं ने आरोप लगाया कि कई मतदान केंद्रों में उनके निर्वाचन अभिकर्ताओं को प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई. निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि नंदीग्राम के भीमकाता इलाके में तृणमूल कार्यकर्ताओं के एक समूह ने भाजपा उम्मीदवार के खिलाफ प्रदर्शन किया और नारेबाजी की. इसके अलावा, निर्वाचन क्षेत्र में हिंसा या किसी प्रकार की अप्रिय घटना की कोई जानकारी नहीं मिली है.

modi shah

27 मार्च से नंदीग्राम में हैं ममता बनर्जी

तृणमूल के सूत्रों ने बताया कि बनर्जी ने पहले गुरूवार शाम साढ़े छह बजे मतदान समाप्त होने के बाद उत्तर बंगाल में प्रचार करने के लिए इलाके से जाने का फैसला किया था, लेकिन उन्होंने सुबह अपना कार्यक्रम बदल दिया. बनर्जी के साथ मौजूद तृणमूल के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘उन्होंने रुकने और कल जाने का फैसला किया है.

mamata banerjee tmc

बनर्जी इलाके में हालात पर नजर रखेंगी और यदि आवश्यकता हुई, तो पर मतदान स्थलों पर भी जाएंगी.’ बनर्जी 27 मार्च से नंदीग्राम में हैं. उन्होंने बुधवार को आरोप लगाया था कि नंदीग्राम में समस्या पैदा करने और मतदाताओं को डराने के लिए अन्य राज्यों से ‘गुंडे’ लाए गए हैं. (एजेंसी इनपुट सहित)

Leave a Comment